गुजर जाती है इस तरह , बहुत सी जिंदगी की रातें………, कुछ ख्वाब गुजर जाते हैं , बस मुकम्मल नहीं होते..

By | 2018-07-04T20:20:51+00:00 July 4th, 2018|Blog|

एक गुनाह मोहब्बत था , तेरे दिल तक नहीं पहुचा , बाकी सारे शहर का बेवजह मैं , गुनहगार हो गया ………………

By | 2018-05-30T23:01:56+00:00 May 30th, 2018|Blog|

हर एक जख्म का अपने , मैं कर सकता था हिसाब., अफ़सोस मुझे मोहब्बत का , कारोबार नहीं आता…………

By | 2018-05-22T18:06:05+00:00 May 22nd, 2018|Blog|

कुछ चिराग कभी जलते नहीं , हवाओ को देखकर, जलते हुए मुझे हवाओ से ही , मोहब्बत का शौक है…….

By | 2018-04-19T19:43:56+00:00 April 19th, 2018|Blog|

आज बहुत बिकी है मोहब्बत, सरेबाज़ार इस तरह.., मुझे आशिक नहीं शायद , अब खरीदार होना है,

By | 2017-09-04T09:52:13+00:00 September 4th, 2017|Blog|