एक गुनाह मोहब्बत था , तेरे दिल तक नहीं पहुचा , बाकी सारे शहर का बेवजह मैं , गुनहगार हो गया ………………

एक गुनाह मोहब्बत था , तेरे दिल तक नहीं पहुचा
बाकी सारे शहर का बेवजह मैं , गुनहगार हो गया ……………..

Visit at www.sonutyagi.com & www.approachentertainment.net

Share
By | 2018-05-30T23:01:56+00:00 May 30th, 2018|Blog|0 Comments